Nivesh Kya Hai, Investment Meaning in Hindi निवेश क्या हैं

आज के इस आर्टिकल में आप जानेंगे  जैसे :- Nivesh Kya Hai, Investment Meaning in Hindi निवेश क्या हैं ? निवेश की शुरुआत कैसे करें ? निवेश के लिए जरुरी कागजात क्या-क्या जरुरी हैं ? निवेश क्यों करना चाहिए, सभी जानकारी के लिए आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़े। 

Nivesh Kya Hai – निवेश किसे कहते हैं ?

Nivesh Kya Hai :- निवेश का अर्थ होता हैं की अपने पैसे को किसी न किसी ऐसे कार्य में लगाना जहाँ पर  पैसा बढे, जो पैसा भविष्य में बढ़ कर आने वाला हैं तो ओ निवेश कहलायेगा। निवेश एक ऐसा व्यवस्था हैं जिसके माध्यम से कोई भी व्यक्ति प्रगति की ओर जा सकता हैं। जैसे की आपके पास 10 हजार रुपये हैं और उसके 15 हजार करना हैं तो आप इसे पेटी (Box) में रख कर नही कर सकते हैं।

Investment
Nivesh Kya Hai – निवेश किसे कहते हैं ?

इसके लिए आपको कही न कही निवेश करना पड़ेगा। निवेश हमेशा वैसे पैसा का करना चाहिए जो पैसा आपके जरुरी खर्च के अतिरिक्त हो जिस पैसा का जरुरत अगले कुछ सालो तक न हो। निवेश को English में Invest या Investment कहा जाता हैं। 

निवेश से आप क्या समझते हैं – Investment Meaning in Hindi ?

Investment Meaning in Hindi : निवेश परिभाषा एक संपत्ति है जिसे अर्जित या निवेश किया गया है, ताकि धन से धन का निर्माण किया जा सके, और कड़ी मेहनत से अर्जित आय से पैसा बचाया जा सके। निवेश का अर्थ मुख्य रूप से आय का एक अतिरिक्त स्रोत प्राप्त करना या किसी लंबा अवधि में निवेश से लाभ प्राप्त करना होता  है।

निवेश क्यों करना चाहिए | Nivesh Kya Hai | Investment Kya Hai

why should invest :- निवेश आपके पैसे को काम पर लगाने और संभावित रूप से धन कमाने का एक प्रभावी तरीका है। स्मार्ट निवेश आपके पैसे को महँगाई और मूल्य में वृद्धि को दूर करने की अनुमति दे सकता है। निवेश की अधिक वृद्धि क्षमता मुख्य रूप से कंपाउंडिंग की शक्ति और जोखिम-वापसी अदला – बदली  के कारण होती है।

 निवेश के प्रकार | Investment Types

ये हैं कुछ पारम्परिक निवेश के तरीका | Traditional Investment

  1. FD Investment ( Fix Deposit Investment ) :- अधिकांश भारतीय FD में निवेश करना पसंद करते हैं। निवेश का एक अच्छा तरीका माना जाता हैं। 
  2. PPF Investment :- PPF का पूरा नाम Public Provident Fund scheme होता हैं जिसको हिंदी में लोक भविष्य निधि योजना कहा जाता हैं। बड़ा  वर्ग जो हैं ओ  पीपीएफ/PPF  में भी निवेश करते हैं।
  3. Invest In Gold :- हमारे देश भारत में सोना में भी निवेश का एक तरीका माना जाता हैं, जैसे सोना से बना बिस्किट, सिक्का, आभूषण इत्यादि।  
  4. Savings Insurance Plan :-  इसे भारतीय पारम्परिक निवेश बचत बिमा योजना को माना  जाता हैं जो पारम्परिक निवेश में सबसे पहली नंबर पर आता हैं।
  5. Invest In Real State :- जिनके पास अधिक अतिरिक्त पूंजी होता हैं ओ लोग Real State में भी निवेश करते हैं, जैसे किसी शहर में प्लॉट,फ्लैट इत्यादि खरीदते हैं ताकि आने वाले भविष्य में कीमते बढ़े तो इसका लाभ उठाया जा सके।

उपरोक्त जो निवेश के तरीका हैं ओ पारम्परिक निवेश का तरीका माना जाता हैं, जिसमे जोखिम (Risk) न के बराबर हैं। हाँ मगर इसमें Return भी कम ही आता हैं। 

इसे भी पढ़े :- Bank Account Kya Hai Hindi – बैंक खाता क्या है | Bank Account Benefits – बैंक आकउंट के फायदे | Types of Bank Account – बैंक अकाउंट के प्रकार

निवेश के प्रकार | Nivesh Kya Hai | Nivesh Ke Prakar

गैर पारम्परिक निवेश के तरीके | Non Traditional Investment

अब कुछ लोग कुछ जोखिम के साथ भी अन्य निवेश का योजना भी बना रहे हैं। जैसे म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Fund), एसआईपी (SIP), शेयर बाजार (Stock Market), एनपीएस (NPS), आईपीओ (IPO),  ईटीएफ (ETF), बॉन्ड्स (Bonds), एनसीडी (NCD) इत्यादि। ये सभी गैर पारम्परिक निवेश के तरीके हैं। इस योजना में लगभग 2 -3% भारतीय लोग ही निवेश करते हैं। जिसका सबसे प्रमुख कारण हैं की अभी भी अधिकांश भारतीय लोगो को इसकी सही जानकारी नही हैं या फिर भारतीय लोग जोखिम लेना नही चाहते हैं। वैसे भी हमारे भरतीये लोग जोखिम लेना बिलकुल पसंद नही  करते हैं इसमें 2 -3% लोग ही होते हैं जो जोखिम ले कर निवेश करते हैं।

इसे भी पढ़े :- डीमैट अकाउंट क्या होता है || Demat Account Kya Hai

निवेश शुरू कैसे करें | How to Start Investment – Nivesh Kaise Kare 

अगर अभी तक आप कोई भी निवेश (Invest) नही किये हैं, और आप निवेश करने का मन बना रहे हैं और निवेश करने के लिए आपके पास ज्यादा पैसा नही हैं तो आप सिर्फ 500 रुपये प्रति महीना के हिसाब से शुरू कर सकते हैं। इसके लिए आपके पास एसआईपी (SIP) सबसे अच्छा विक्लप हैं। आप किसी भी कंपनी के म्यूच्यूअल फण्ड में SIP के माध्यम से बहुत ही आसानी से निवेश कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़े :- म्यूचुअल फंड क्या है | Mutual Fund Kya Hai | म्यूचुअल फंड परिचय | What is Mutual Fund | Mutual Fund Introduction | SIP Full Form

निवेश के लिए जरुरी कागजात | Required Document to Investment ?

निवेश करने के लिए आपके पास जरुरी दास्तावेज होना चाहिए, बिना वैध दास्तावेज के आप निवेश नही कर सकते हैं। निचे के लिस्ट से आप जरुरी दास्तावेज देखें। 

इसके लिए आपके पास 2 डॉक्यूमेंट होना अत्यंत जरुरी हैं इसके बिना निवेश नही कर सकते हैं। 

 1. पैन कार्ड | Pan Card  2. बैंक खाता | Bank Account और चेक  बुक | Cheque Book

Identity Proof | Address Proof | पहचान पत्र 

  1. आधार कार्ड | Aadhar Card 
  2. पासपोर्ट | Passport 
  3. मतदाता पहचान पत्र | Voter Card 
  4. ड्राइविंग लाइसेंस | Driving License 
  5.  राशन कार्ड | Ration Card 
  6.  बैंक अकाउंट स्टेटमेंट | Bank Account Statement 
  7.  बिजली बिल | Electricity Bill, गैस बिल | Gas Bill , टेलीफोन बिल ( लैंडलाइन ) Telephone Bill ( Landline) 
″ये आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताइये।  हमारे इस वेबसाइट www.Jeetlal.com पर निवेश करे से सम्बंधित जानकारी आता रहेगा।„   

इसे भी पढ़े :- IPO Me Invest Kaise Kare | How To Invest In IPO | IPO Kaise Kharide सभी जानकारी पढ़े इस आर्टिकल में।

इसे भी पढ़े :- ऑनलाइन पैसा कैसे कमाए | how to earn money online without investment | online paisa kaise kamaye

By Jeetlal

Hi I am Jeetlal, Graduate From Brabu Muzaffarpur, Bihar Our Runing @2 Website 1. www.Biharform.com 2. www.Jeetlal.com. Your Most Welcome On My Website.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: